संदेश

November, 2012 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

भारत का इतिहास

चित्र
Entries (RSS)Comments (RSS) Homeप्राचीन-भारतमध्यकालीन-भारतआधुनिक-भारतस्वतंत्र-भारतविश्व-इतिहासमुख्यपॄष्टसंपादकीय Archive for the ‘आधुनिक-भारत’ Categoryदक्कन के किसानों का दंगलPosted by: संपादक- मिथिलेश वामनकर on: फ़रवरी 19, 2009 In: आधुनिक-भारतLeave a Comment औपनिवेशिक बंगाल के किसानों और जमींदारों और राजमहल की पहाड़ियों के पहाड़िया और संथाल लोगों के जीवन जो परिवर्तन आये, हमने पिछले दो लेखो- १. औपनिवेशिक बंगाल में भूमि बंदोबस्त, २.राजमहल की पहाड़ियों में हल, कुदाल और संथाल – में देखा। अब दृष्टिपात करें  कि बम्बई दक्कन के देहाती क्षेत्र में क्या हो रहा था। ऐसे परिवर्तनों का पता लगाने का एक तरीका है वहाँ के किसान विद्रोह पर ध्यान कें दित्र करना। ऐसे नाजकु दौर मे विद्रोही अपना गुस्सा और प्रकोपोन्माद दिखलाते हैं वे जिसे अन्याय और अपने दु:ख-दर्द का कारण समझते है उनके खिलाफ़ आवाज बुलंद करते है।
यदि हम उनकी नाराजगी के आधारभूत  कारणो को जानने का प्रयत्न करे है और उनके गुस्से की परतें उधेड़ने लगते हैं तो हम उनके जीवन और अनुभव की झलक देख पाते हैं जो अन्यथा हमसे छिपी रहती है। विद्रोहों के बारे …